उत्तराखंड

उत्‍तराखंड के नए मुख्‍यमंत्री बने तीरथ सिंह रावत

तीरथ सिंह रावत
108views

देहरादून। विधायक दल के नेता चुने गए तीरथ सिंह राजभवन पहुंच गए हैं। उनके साथ उनका परिवार भी है। वे कुछ ही देर में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण के लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के नेतृत्व में भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने राजभवन जाकर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य से मुलाकात की।

अरविंद केजरीवाल सरकार ने किया विधानसभा में बजट पेश

भाजपा विधायक दल के नए नेता के रूप में तीरथ सिंह रावत के चुने जाने की जानकारी दी

प्रदेश अध्यक्ष की ओर से भाजपा विधायक दल के नए नेता के रूप में तीरथ सिंह रावत के चुने जाने की जानकारी दी। साथ ही उन्हें पार्टी की ओर से पत्र भी सौंपा। राज्यपाल ने नए मुख्यमंत्री के रूप में चयनित तीरथ सिंह रावत को शपथ ग्रहण के लिए समय दिया। इस मौके पर कार्यवाहक मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद अजय भट्ट, अजय टम्टा, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल आदि मौजूद थे।

तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के 10वें मुख्यमंत्री होंगे

पौड़ी गढ़वाल लोकसभा सीट से सांसद तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के 10वें मुख्यमंत्री होंगे। बुधवार को देहरादून में भाजपा प्रदेश मुख्यालय में आयोजित भाजपा विधानमंडल दल की बैठक में तीरथ सिंह रावत को सर्वसम्मति से विधानमंडल दल का नेता चुना गया। तीरथ का नेता चुना जाना सभी को चौंका गया, क्योंकि उनका नाम प्रमुख दावेदारों में शुमार नहीं किया जा रहा था। वे शाम चार बजे राजभवन में शपथ लेंगे। उनके साथ पांच से छह मंत्री भी शपथ ले सकते हैं।

चार साल में किए गए विकास कार्यों को आगे बढ़ाएंगे

सीएम पद की जिम्मेदारी मिलने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा मैं पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी का शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया। एकमात्र पार्टी कार्यकर्ता, जो एक छोटे से गांव से आता है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं यहां तक पहुंचूंगा। हम लोगों की अपेक्षाओं को पूरा करने और पिछले चार सालों में किए गए कार्यों को आगे बढ़ाने की कोशिश करेंगे।

नया नेता चुनने के लिए बुधवार सुबह देहरादून में भाजपा विधानमंडल दल की बैठक बुलाई गई

चार दिन की राजनीतिक हलचल के बाद केंद्रीय नेतृत्व से मुलाकात के बाद देहरादून लौटने पर मंगलवार शाम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। नया नेता चुनने के लिए बुधवार सुबह देहरादून में भाजपा विधानमंडल दल की बैठक बुलाई गई। बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह व प्रदेश भाजपा प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम मौजूद थे। बैठक में सभी सांसदों को भी बुलाया गया।

उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य व भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी के अलावा पांचों लोकसभा सदस्य व राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल बैठक में शामिल हुए। इनमें हरिद्वार सांसद व केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह, पौड़ी गढ़वाल के सांसद तीरथ सिंह रावत, नैनीताल के सांसद अजय भट्ट व अल्मोड़ा के सांसद अजय टम्टा शामिल थे।

लगभग 11 बजे बैठक आरंभ हुई

जिसमें कार्यवाहक मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने तीरथ सिंह रावत के नाम का प्रस्ताव किया, जिस पर सर्वसम्मति से मुहर लगा दी गई। तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड की पहली अंतरिम सरकार में शिक्षा राज्य मंत्री रहे हैं। उन्हें संगठन का भी अनुभव रहा है।

महत्वपूर्ण बात यह कि

तीरथ को मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में आगे नहीं माना जा रहा था। केंद्रीय मंत्री निशंक, सांसद अजय भट्ट, त्रिवेंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज व राज्य मंत्री धन सिंह रावत मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में शुमार किए जा रहे थे। राज्य के 10वें मुख्यमंत्री के रूप में तीरथ सिंह रावत बुधवार शाम चार बजे राजभवन में शपथ लेंगे।

राजभवन में शाम चार बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे तीरथ सिंह रावत, साथ में तीन से पांच मंत्री ले सकते हैं शपथ।

केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी बैठक में पहुंचे।

भाजपा प्रदेश कार्यालय गहमागहमी। कार्यवाहक मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, सांसद अजय भट्ट आदि भी पहुंचे।

भाजपा के अधिकांश विधायक पार्टी मुख्यालय पहुंचे।

भाजपा प्रदेश कार्यालय में सबसे पहले पहुंचे भाजपा विधायक सुरेश राठौर।

सीएम रावत ने दिया इस्तीफा, मीडिया से होंगे रूबरू