राष्ट्रीय

चक्का जाम करने वालों के साथ कंधे से कंधे मिलाकर खड़े रहेंगे कांग्रेस

चक्का जाम
138views

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान ने आज देशव्यापी चक्का जाम किया। प्रदर्शनकारियों ने दोपहर 12 बजे से अपराह्न तीन बजे तक तीन घंटे के चक्का जाम का आह्वान किया था। हरियाणा और पंजाब में ही इसका थोड़ा बहुत असर देखने को मिला। इस दौरान प्रदर्शनकारी कई जगहों पर सड़कों पर बैठ गए। चक्का जाम के मद्देनजर दिल्ली में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया गया। चप्पे-चप्पे पर पहरा था। हालांकि, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में किसानों ने प्रदर्शन नहीं किया।

राष्ट्रीय खाद्य प्रंसस्करण के सम्बन्ध में विभागीय समीक्षा की बैठक

Countrywide Chakka Jam Updates

कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने कहा कि

– किसान 71 दिनों से सड़कों पर हैं, वे संघर्ष कर रहे हैं। एक तरफ, सरकार बातचीत के लिए तैयार है, जबकि दूसरी ओर वे पानी और बिजली कनेक्शन काट रहे हैं। वे किसानों को परेशान कर रहे हैं। एक लोकतांत्रिक सरकार इस तरह से कैसे काम कर सकती है ?

– कर्नाटक: किसान संगठनों द्वारा आज देशभर में चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने बनकापुर टोल पर और टोल के पास नेशनल हाइवे पर चक्का जाम किया।

– पंजाब: किसान संगठनों द्वारा आज देशभर में दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने अमृतसर-दिल्ली नेशनल हाईवे को जाम किया।

– तेलंगाना: किसानों द्वारा बुलाए गए देशव्यापी चक्काजाम के तहत हैदराबाद के बाहरी इलाके में हाईवे पर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हटाया।

– दिल्ली: शहीदी पार्क इलाके में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया, जो आज किसानों द्वारा बुलाए गए देशव्यापी ‘चक्का जाम’ के तहत कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध कर रहे थे।

– पंजाब: किसान संगठनों द्वारा आज देशभर में दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने मोहाली में चक्का जाम किया।

– गाजीपुर बॉर्डर से भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आज चक्का जाम हर जगह शांतिपूर्ण ढंग से किया जा रहा है। अगर कोई भी अप्रिय घटना होती है तो दंड दिया जाएगा।

दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने जम्मू-पठानकोट हाईवे पर चक्का जाम

– जम्मू-कश्मीर: किसान संगठनों द्वारा आज देशभर में दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम के आह्वान पर किसानों ने जम्मू-पठानकोट हाईवे पर चक्का जाम किया।

– ग्वालियर में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘मैं कृषि कानूनों का विरोध कर रहे लोगों से अपील करता हूं कि वे सड़कों पर आएं और आज दोपहर 12 से 3 बजे के बीच ‘धरना’ में शामिल हों।

– बेंगलुरु: किसानों द्वारा बुलाए गए देशव्यापी चक्काजाम के मद्देनजर कृषि कानूनों के खिलाफ येलहंका पुलिस स्टेशन के बाहर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत में लिया।

राज्यसभा में कृषि कानूनों का बचाव करने पर कांग्रेस ने कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर पर भी निशाना साधा है। कांग्रेस महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता चक्का जाम करने वालों के साथ कंधे से कंधे मिलाकर खड़े रहेंगे। कांग्रेस ने एक बार फिर सरकार से तीनों कृषि कानूनों को रद करने की मांग की है।

दिल्ली में कड़ी सुरक्षा

किसान यूनियनों द्वारा प्रस्तावित ‘चक्का जाम’ के मद्देनजर अतिरिक्त बलों की तैनाती के साथ दिल्ली में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। सड़कों पर बैरिकेडिंग की गई है और कंटीले तार लगाए गए हैं। लाल किले के पास भी भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं। किसान पिछले दो महीने से ज्यादा समय से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

ब्लॉक एवं शहरों में स्मार्ट क्लास स्थापित करने हेतु वित्तीय सहायता