राष्ट्रीय

पंजाब में आपस में भिड़े कांग्रेस-अकाली कार्यकर्ता

कांग्रेस और अकाली दल
214views

चंडीगढ़: पंजाब में स्थानीय निकाय चुनावों को लेकर राजनीति गरमाने लगी है। फजिल्का के जलालाबाद में मंगलवार को नामांकन पत्र दाखिल करने के दौरान कांग्रेस और अकाली दल के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। प्राप्त जानकारी के मुताबिक हिंसक झड़प में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक तीन लोगों को गोली भी लगी है।

LIVE Farmers Protest Update: गाजीपुर बॉर्डर से राकेश टिकैत का बड़ा एलान

सूत्रों के मुताबिक नामांकन के लिए सेंटर पर जाने से रोके जाने के दौरान यह भिड़ंत हुई। दोनों दलों के कार्यकर्ताओं में लाठी-डंडे और पत्थर चले। इस दौरान फायरिंग की भी जानकारी सामने आई है। इससे पहले फिरोजपुर के गुरुहरसहाए में भी दोनों दलों के नेता आमने-सामने आ गए थे। सुखबीर की गाड़ी पर जानलेवा हमला करते भीड़ का वीडियो भी वायरल हुआ है।

शिरोमणि अकाली दल ने हमले के बारे में जारी बयान में कहा, ‘पुलिस समर्थित कांग्रेस के गुंडों ने अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर बादल पर जानलेवा हमला किया। उन्हें बचाने के लिए सामने आए पार्टी के तीन कार्यकर्ताओं को गोली लगी है।’

प्रत्याशियों के नामांकन पत्र दाखिल करने मौके एसडीएम कार्यालय में पहुंचे थे बादल

विवाद उस समय हुआ जब नगर परिषद चुनाव के लिए जलालाबाद हलके में शिरोमणि अकाली दल के उम्मीदवार नामांकन पत्र भरने जा रहे थे। नामांकन में मौजूद रहने के लिए पहुंचे पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि अकाली वर्करों व कांग्रेसी वर्करों के बीच भिड़ेत हो गई और इसी दौरान कुछ लोगों ने सुखबीर बादल की गाड़ी पर हमला कर दिया। फिलहाल पुलिस माहौल को शांतकरने के लिए जुटी हुई है। किसी को भी न तो कोर्ट परिसर के भीतर जाने दिया जा रहा है और न ही बाहर आने की दिया जा रहा है।

झड़प के दौरान घायल कार्यकर्ता और घटना के बाद मुस्‍तैद सुखबीर बादल के सुरक्षाकर्मी।

इस झड़प के दौरान कुछ लोगों ने सुखबीर सिंह बादल की गाड़ी की तोड़ फोड़ की। वहीं फायरिंग होने की भी सूचना है। लेकिन, अभी पुलिस प्रशासन इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दे रहा। शिअद के नेता व वर्कर कांग्रेसियों पर हमला करने के आरोप लगा रहे हैं। इस समय स्थिति तनावपूर्ण है।

हमले में क्षतिग्रस्‍त गाडि़यां।

बता दें कि सोमवार को आम आदमी पार्टी के नेताओं ने भी कुछ लोगों पर धक्का मुक्की करने और फाइलें छीनने के आरोप लगाए थे। इस संबंध में आप पार्टी के जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में आप नेताओं ने जिला प्रशासन के अफसरों से मुलाकात की थी और सुरक्षा बढ़ाने की मांग की थी। आप के प्रदेश अध्यक्ष भगवंत मान भी आज जलालाबाद में पहुंचने वाले थे।

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र बोले, बजट देश की अर्थव्यवस्था का मजबूत आधार बनेगा