राष्ट्रीय

पूरे देश में केरल और महाराष्‍ट्र से ही आ रहे सबसे ज्‍यादा केस

भारत में कोविड-19
123views

नई दिल्‍ली: भारत में कोविड-19 के जितने भी नए मामले आ रहे हैं, 60% से ज्‍यादा केवल दो राज्‍यों- केरल और महाराष्‍ट्र से हैं। बुधवार को जारी आंकड़ों में केवल यही दो राज्‍य ऐसे रहे जहां पिछले 24 घंटों में 500 से ज्‍यादा केस आए हैं। पूरे देश में पिछले 24 घंटों के भीतर कोरोना के 11,610 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से 3,663 अकेले महाराष्‍ट्र से हैं। महाराष्‍ट्र से ज्‍यादा मामले केवल केरल (4,937) से सामने आए हैं। यही दो राज्‍य ऐसे हैं जहां कोविड केसेज की संख्‍या 500 से ज्‍यादा रह रही है। पिछले 24 घंटों में मुंबई में सबसे ज्‍यादा (39) मरीजों की मौत हुई है जबकि केरल में कोविड से 18 मौतें हुई हैं।

राकेश टिकैत बोले- आंदोलन में कोई खालिस्तानी है तो चौराहे पर फांसी दे दो

महाराष्‍ट्र में फिर लग सकता है लॉकडाउन

महाराष्‍ट्र में कोविड-19 केसेज की बढ़ती संख्‍या के बीच फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है। मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को यह चेतावनी दी। उद्धव ने कहा, “लोग लापरवाह हो गए हैं। यह लोगों के ऊपर है कि वे लॉकडाउन चाहते हैं या अभी जितनी कम बंदिशों के साथ जीते रहना चाहते हैं।” मुंबई में भी स्थिति बेहद खराब है। वहां की मेयर किशोरी पेडनेकर ने बुधवार को लोकल ट्रेन में सफर किया और लोगों से मास्‍क पहनने की अपील की। मेयर ने बायकुला से सीएसएमटी तक ट्रेवल किया। उन्‍होंने न्‍यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, “रेल सेवाएं बहाल होने के बाद केवल मुंबई ही नहीं, बल्कि पूरे राज्‍य में मामले बढ़ रहे हैं। हालात खराब हैं।”

बीएमसी ने 550 सोसायटीज के बाहर चिपकाया नोटिस

मुंबई-वेस्‍ट वार्ड जिसमें चेम्‍बूर और तिलक नगर का इलाका आता है, बीएमसी ने सख्‍ती बढ़ा दी है। 550 हाउसिंग सोसायटीज के बाहर नोटिस चिपकाया गया है कि अगर केसेज बढ़ते रहे तो उन्‍हें सील कर दिया जाएगा। मुंबई के 5 वॉडों के कोरोना मरीजों की संख्‍या में 40-50% का इजाफा देखा गया है।

साल के आखिर तक बाजार में आ जाएगी वैक्‍सीन

AIIMS के निदेशक डॉ गुलेरिया को आज कोविड वैक्‍सीन की दूसरी डोज दी गई है। उन्‍होंने कहा है कि कोविड के टीके साल के आखिर तक ओपन मार्केट में आ जाएगी। डॉ गुलेरिया ने कहा, “वैक्‍सीन ओपन मार्केट में तभी आएगी जब जिन्‍हें सबसे ज्‍यादा जरूरत है, उन्‍हें टीका मिल जाएगा और सप्‍लाई-डिमांड में बराबरी हो जाएगी। उम्‍मीद है कि ऐसे हालात साल के आखिर तक या उससे पहले बन सकते हैं।”

 महीने भर से डेली 15 हजार से कम केस

यह राहत की बात है कि पिछले एक महीने से देश में डेली केसेज की संख्या 15 हजार से कम दर्ज हो रही है। साथ ही करीब डेढ़ महीने से दैनिक मौतों का आंकड़ा भी 200 से कम रहा है। पिछले 15 दिनों से तो दैनिक मामलों का आंकड़ा घटकर 9,000 से 12,000 के बीच आ गया है और मौतों की संख्या भी घटकर 78 से 120 के बीच दर्ज हो रही है। इस साल के अब तक के सबसे कम दैनिक मामले 9 फरवरी को दर्ज हुए थे, जो कि 9,110 थे।

ओवरऑल क्‍या हैं कोरोना के आंकड़े?

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 11,610 नए मामले दर्ज किए गए हैं। अब तक दर्ज हुए कुल मामलों की संख्या 1,09,37,320 हो गई है। वहीं 100 नई मौतों के बाद मरने वालों की कुल संख्या 1,55,913 हो गई है। बीते 24 घंटों में 11,833 लोगों के डिस्चार्ज होने के बाद अब तक ठीक हुए रोगियों की कुल संख्या बढ़कर 1,06,44,858 हो गई है। वहीं अब देश में सक्रिय मामलों की संख्या 1,36,549 है। देश में रिकवरी दर 97.33 प्रतिशत और मृत्यु दर 1.43 प्रतिशत हो गई है।

मुंबई में अबतक 15 लाख से ज्‍यादा बिना मास्‍क पकड़ाए

बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने पिछले साल अप्रैल से लेकर अब तक सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क के 15 लाख से अधिक लोगों को पकड़ा है। उनसे 30 करोड़ रुपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया गया है। अकेले सोमवार को 13,008 लोग पकड़े गये हैं और उनसे 26,01,600 रुपये जुर्माने के तौर पर वसूला गया है।

बेंगलुरु में एक बिल्डिंग से 103 केस

कर्नाटक के बेंगलुरु स्थित एक अपार्टमेंट में रहने वाले 103 लोग कोविड पॉजिटिव टेस्‍ट हुए हैं। एसएनएन राज लेकव्‍यू नाम का यह अपार्टमेंट बोम्‍मनहल्‍ली में स्थित है। इन 103 में से 96 लोग 60 साल से ज्‍यादा उम्र के हैं।

8. पिछले 24 घंटे में 18 राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों में किसी की मौत नहीं
उत्तर प्रदेश, राजस्थान और आंध्र प्रदेश समेत 18 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से कोई मौत नहीं हुई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को इस बारे में बताया। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘पिछले 24 घंटे में 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 से किसी की मौत की सूचना नहीं है। इनमें उत्तर प्रदेश, राजस्थान, आंध्र प्रदेश, जम्मू कश्मीर, झारखंड, पुडुचेरी, हिमाचल प्रदेश, लक्षद्वीप, मणिपुर, लद्दाख, असम, अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह, सिक्किम, मेघालय, त्रिपुरा, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, दादर एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव शामिल हैं।’’

अबतक करीब 90 लाख को लगा टीका

बुधवार सुबह आठ बजे की रिपोर्ट के अनुसार 1,91,373 सत्रों के माध्यम से करीब 90 लाख लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। इनमें 61,50,922 स्वास्थ्य कर्मी (पहली खुराक), 2,76,377 स्वास्थ्य कर्मी (दूसरी खुराक) और अग्रिम मोर्चे के 25,71,931 कर्मी (पहली खुराक) शामिल हैं। मंत्रालय के अनुसार 16 फरवरी को शाम चार बजे तक जिन लोगों का टीकाकरण हुआ उनमें 36 लोगों के अस्पताल में भर्ती होने और 29 लोगों की मौत की सूचना है। अस्पताल में भर्ती होने वाले 36 लोगों में से 22 को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी।

घोर लापरवाही बरत रही है सरकार : राहुल

देश में कोरोना वायरस के दक्षिण अफ्रीकी और ब्राजीलियाई स्वरूप के मामले सामने आने के बाद, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को आरोप लगाया कि कोविड-19 को लेकर सरकार घोर लापरवाही बरत रही है। उन्होंने एक खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘केंद्र सरकार घोर लापरवाही बरत रही है और कोविड-19 को लेकर अतिविश्वास में है। यह अभी खत्म नहीं हुआ है।’’

पीएम मोदी ने बुधवार को नास्कॉम टेक्नोलॉजी एंड लीडरशिप फोरम को किया संबोधित